कानपुर में कविताई संस्था की प्रस्तुति "उधौ चुपाय रहौ" का विमोचन किया।